मुरलीधरन की बायोपिक में रोल करने पर फिर से विचार करें विजय सेतुपति: अन्नाद्रमुक

तमिल एक्टर विजय सेतुपति.

तमिल एक्टर विजय सेतुपति.

अन्नाद्रमुक (AIADMK) नेता डी जयकुमार (D Jayakumar) ने कहा कि, तमिल एक्टर विजय सेतुपति (Tamil actor Vijay Sethupathi), बायोपिक में मुथैया मुरलीधरन (Muttiah Muralitharan) का किरदार निभाने के अपने फैसले पर फिर से विचार करें. यदि वे इस फिल्म में काम नहीं करेंगे तो उन्हें सम्मान की नजर से देखा जाएगा.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    October 18, 2020, 6:39 AM IST

चेन्नई. अन्नाद्रमुक (AIADMK) के वरिष्ठ नेता और मत्स्य पालन मंत्री डी जयकुमार ने शनिवार को कहा कि अच्छा होगा यदि तमिल एक्टर विजय सेतुपति (Tamil actor Vijay Sethupathi), श्रीलंकाई क्रिकेट खिलाड़ी मुथैया मुरलीधरन (Muttiah Muralitharan) की बायोपिक ‘800’ में मुख्य किरदार निभाने के अपने फैसले पर पुनर्विचार करें.

जयकुमार ने कहा कि मुरलीधरन पूर्व श्रीलंकाई राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे की ‘आवाज’ रहे हैं. मंत्री ने कहा कि राजपक्षे, 2009 के गृहयुद्ध के दौरान हुई तमिल लोगों की हत्या के जिम्मेदार हैं और मुरलीधरन ने उनका समर्थन किया था. जयकुमार ने कहा, ‘मुरलीधरन अपने महिंदा राजपक्षे की आवाज रहे हैं. तमिल लोग उन्हें कैसे स्वीकार करेंगे?’ उन्होंने कहा, ‘विजय सेतुपति के लिए अच्छा रहेगा कि वह फिल्म में अपनी भूमिका निभाने पर फिर से विचार करें.’

मंत्री ने कहा कि यदि सेतुपति फिल्म में काम नहीं करेंगे तो उन्हें सम्मान की नजर से देखा जाएगा. जयकुमार ने कहा कि एक्टर के प्रशंसकों ने भी सेतुपति के इस निर्णय को स्वीकार नहीं किया है. मंत्री ने कहा कि यदि सेतुपति फिल्म में काम नहीं करेंगे तो उन्हें सम्मान की नजर से देखा जाएगा. जयकुमार ने कहा कि एक्टर के प्रशंसकों ने भी सेतुपति के इस निर्णय को स्वीकार नहीं किया है.

इससे पहले श्रीलंकाई क्रिकेटर मुथैया मुरलीधरन (Muttiah Muralitharan) ने शुक्रवार को कहा कि उनकी जिंदगी पर प्रस्तावित बायोपिक ‘800’ सिर्फ उनके खेल की उपलब्धियां के बारे में हैं. मुरलीधरन ने कहा कि, उन्होंने देश में दशकों के लंबे संघर्ष के बावजूद ऐसा किया.उन्होंने इस बात पर नाराजगी व्यक्त की कि उन पर तमिलों के खिलाफ होने का आरोप लगाया जा रहा है और कहा कि यह राजनीतिक कारणों और अज्ञानता के कारण ही है. तमिलनाडु के एक्टर विजय सेतुपति (Tamil actor Vijay Sethupathi) बायोपिक से अपने करियर को फिर से शुरू कर रहे हैं. कुछ राजनीतिक पार्टियों ने गुरुवार को आरोप लगाया कि मुरलीधरन ने तमिलों से विश्वासघात किया इसलिए सेतुपति को इसमें काम नहीं करना चाहिए.

मुरलीधरन ने कहा कि उन्होंने कभी भी मासूम लोगों के मारे जाने का समर्थन नहीं किया. उन्होंने बयान जारी कर कहा कि वह श्रीलंकाई गृहयुद्ध के दर्द को समझते हैं और उनके परिवार ने श्रीलंका में अपनी यात्रा ‘कूली’ के तौर पर की थी. उन्होंने कहा, ‘हम भी गृहयुद्ध से काफी प्रभावित रहे हैं.’

कुछ राजनीतिक पार्टियों ने गुरुवार को आरोप लगाया कि मुरलीधरन ने तमिलों से विश्वासघात किया इसलिए सेतुपति को इसमें काम नहीं करना चाहिए. एमडीएमके के महासचिव वाइको (Vaiko) ने आरोप लगाया कि मुरलीधरन को पूरी दुनिया में तमिल जाति से विश्वासघात करने के लिए जाना जाता है जिन्होंने श्रीलंकाई गृहयुद्ध के दौरान वर्ष 2009 में तत्कालीन राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे का समर्थन किया था.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *