14 और 12 प्वाइंट्स के फेर में फंस गई हैं 6 टीमें, प्लेऑफ में पहुंचने के लिए अब है करो या मरो की लड़ाई

प्लेऑफ की लड़ाई (फाइल फोटो- BCCI/IPL)

प्लेऑफ की लड़ाई (फाइल फोटो- BCCI/IPL)

IPL playoff Scenarios: आईपीएल के इस सीजन में 6 टीमें अब भी 3 जगहों के लिए लड़ाई लड़ रही है, जबकि लीग स्टेज में सिर्फ 4 मैच और रह गए हैं.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    November 1, 2020, 8:10 AM IST

नई दिल्ली. इंडियन प्रिमियर लीग (IPL 2002) में शनिवार को दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) की करारी हार ने प्वाइंट्स टेबल को हिला कर रख दिया है. मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) की टीम पहले ही 18 अंकों के साथ टॉप पर पहुंच चुकी है, लेकिन प्लेऑफ (Playoff) में 3 बाकी टीमें कौन सी होंगी इसको लेकर तस्वीर फिलहाल साफ नहीं है. 6 टीमें अब भी इन 3 जगहों के लिए लड़ाई लड़ रही हैं, जबकि आईपीएल के लीग स्टेज में सिर्फ 4 मैच और रह गए हैं. ऐसे में बाकी बचे मैच 6 टीमों के लिए करो या मरो की लड़ाई है. अब सारी टीमों को 1-1 मैच और खेलने हैं.

14 अंकों के फेर में 2 टीम
रॉयल चैंलेजर्स बैंगलोर और दिल्ली कैपिटल्स 14 अंकों के फेर में फंस गई है. शनिवार को हर किसी को उम्मीदें थी कि ये दोनों टीमें एक-एक जीत दर्ज कर बड़े आराम से प्लेऑफ के लिए क्वालिफाई कर जाएंगी. लेकिन इन दोनों को करारी हार का सामना करना पड़ा. खास बात ये है कि दोनों टीमों को आखिरी मैच एक दूसरे के खिलाफ ही खेलना है. यानी ये मैच दोनों टीमों के लिए सेमीफाइनल की तरह होगा. जीत का मतलब होगा सीधे प्लेऑफ में इंट्री, लेकिन हारने वाली टीम को दूसरे नतीजों पर निर्भर रहना होगा.

प्वाइंट्स टेबल

12 के फेर में 4 टीमें
सनराइजर्स हैदराबाद, किंग्स इलेवन पंजाब, राजस्थान रॉयल्स और कोलकाता नाइट राइडर्स, इन सारी टीमों के खाते में 12-12 अंक हैं. सनराइजर्स के लिए अच्छी बात ये है कि उनका नेट रनरेट प्लस में है. जबकि बाक़ी टीमों के नेट रनरेट माइनस में हैं. इसमें सबसे खराब नेट रनरेट (-0.467) कोलकाता है. पंजाब को प्लेऑफ में पहुंचने के लिए सिर्फ एक जीत की जरूरत है. उन्हें आखिरी मैच चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ खेलना है.

ये भी पढ़ें:- ईशान किशन को मैन ऑफ द मैच देने से भड़का ये तेज गेंदबाज, कहा बुमराह थे हकदार

कोलकाता और राजस्थान की चुनौती
केकेआर और राजस्थान को आखिरी मैच एक दूसरे के खिलाफ खेलना है. इन्हें न सिर्फ आखिर मैच जीतना होगा बल्कि ये भी दुआ करनी होगी सनराइजर्स और पंजाब, दोनों को अपने आखिरी मैच जीत न मिले. यहां इन दोनों टीमों को खतरा नेट रन रेट से है. खराब नेट रनरेट इनकी उम्मीदों को झटका दे सकती है.



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *