cbdt extend last date to file returns under vivad se vishwas scheme to 31 march। विवाद से विश्वास योजना में सरकार ने दी राहत, करदाता 31 मार्च तक कर सकेंगे भुगतान

नई दिल्लीः आयकर विभाग (Income Tax Department) ने बुधवार को कहा कि प्रत्यक्ष कर विवाद समाधान योजना- विवाद से विश्वास (Vivad se Vishwas) के तहत घोषणा करने वाले करदाताओं (Taxpayers) को भुगतान करने को लेकर 31 मार्च तक का समय होगा.

सीबीडीटी ने जारी किया स्पष्टीकरण
केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) ने योजना के संदर्भ में स्पष्टीकरण जारी किया है. इसमें कहा गया है कि पहले करदाताओं को नामित प्राधकरण से घोषणा प्रमाणपत्र प्राप्त होने के 15 दिनों के भीतर भुगतान करने की जरूरत थी. वो अब लागू नहीं होगा. सीबीडीटी के अनुसार करदाताओं के लिए कठिनाई को कम करने के लिये यह कदम उठाया गया है.

उसने कहा, ‘यह स्पष्ट किया जाता है कि विवाद से विश्वास योजना के तहत अगर करदाता 31 दिसंबर, 2020 को या उससे पहले घोषणा करता है, नामित प्राधिकरण योजना (विवाद से विश्वास) की धारा 5 की उप-धारा (I) के तहत प्रमाणपत्र जारी करते हुए घोषणा करने वाले को बिना अतिरिक्त राशि के 31 मार्च, 2020 या उससे पहले जमा करने की अनुमति देंगे.’

तीसरी बार बढ़ा दी गई समय सीमा
सरकार ने मंगलवार को प्रत्यक्ष कर विवाद समाधान योजना के तहत भुगतान करने की समय सीमा 31 मार्च, 2021 तक बढ़ा दी. यह तीसरा मौका है जब योजना के तहत भुगतान की समयसीमा बढ़ाई गई है. नांगिया एंडरसन एलएलपी के भागीदार संदीप झुनझुनवाला ने कहा कि इस स्पष्टीकरण से उन करदाताओं को बड़ी राहत मिली है, जो महामारी के कारण ‘लॉकडाउन’ से प्रभावित हुए और नकदी समस्या से जूझ रहे हैं.

उन्होंने कहा कि अब इन करदाताओं पर प्रमाणपत्र की प्राप्ति के बाद भुगतान में देरी को लेकर जुर्माना नहीं लगाया जाएगा. पर उन्हें 31 मार्च, 2021 या उससे पहले भुगतान करना होगा.

(इनपुट-भाषा)

यह भी पढ़ेंः Aarogya Setu App को किसने बनाया? सरकार ने दी ये सफाई

ये भी देखें—



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *