india tour of australia: coronavirus outbreak in adelaide, CA says adelaide test will be played as planned | एडिलेड में कोरोना की दूसरी लहर, CA ने भारत-ऑस्ट्रेलिया सीरीज को लेकर किया बड़ा ऐलान

नई दिल्ली: क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (CA) ने कहा है कि वह यह सुनिश्चित करके चल रहे है कि कोरोना वायरस की दूसरी लहर के बावजूद भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच पहला टेस्ट मैच एडिलेड में ही खेला जाएगा, जोकि दोनों टीमों के बीच दिन-रात का पहला टेस्ट मैच होगा. 

एडिलेड में कोरोना के मामले अचानक बढ़ने लगे हैं और इससे 17 दिसंबर से शुरू होने वाले पहले टेस्ट मैच पर भी खतरे के बादल मंडराने लगे हैं. लेकिन सीए ने स्पष्ट कर दिया है कि वो अभी भी दोनों टीमों के बीच होने वाले ऐतिहासिक दिन-रात टेस्ट मैच की तैयारियों में जुटा हुआ है और यह सही दिशा में आगे बढ़ रही है.

एडिलेड में कोरोना के बढ़ते मामलों के कारण कुछ अन्य राज्यों को इसे महामारी का हॉटस्पॉट घोषित करना पड़ा है. एडिलेड में कोरोना के मामलों में अचानक बढ़ोतरी देखी गई है. वहा कोरोना के मामले चार से बढ़कर 18 तक पहुंच गए हैं.

वेस्टर्न ऑस्ट्रेलिया, तस्मानिया और द नॉर्थन टेरिटरी की सरकारों ने अपनी सीमाओं को बंद करने का फैसला किया है. वहीं क्वींसलैंड ने एडिलेड से आने वाले लोगों के लिए दो सप्ताह का क्वारंटाइन का नियम बनाया है.
इस नियम का मतलब है कि एडिलेड में खेले गए मार्श शेफील्ड शील्ड मैच में हिस्सा लेने वाले वेस्टर्न ऑस्ट्रेलिया के सभी खिलाड़ियों को दो सप्ताह के लिए सेल्फ आइसोलेशन में रखना होगा. इसका मतलब है कि ऑस्ट्रेलिया के टेस्ट कप्तान पेन और विकेटकीपर बल्लेबाज मैथ्यू वेड और तस्मानिया की टीम के बाकी के सदस्यों को भी आइसोलेशन में जाना होगा.

भारतीय टीम इस समय ऑस्ट्रेलिया में ही है और दो सप्ताह का क्वारंटीन पीरियड निकाल रही है. टीम का क्वारंटीन का पांचवां दिन है यह 27 नवंबर को होने वाले पहले वनडे मैच से एक दिन पहले समाप्त होगा.

हालांकि अच्छी बात यह है कि न्यू साउथ वेल्स और विक्टोरिया ने अपनी-अपनी सीमाओं को खोले रखने का फैसला किया है. न्यू साउथ वेल्स की प्रमुख ग्लैडी बेरीज कालयन पहले ही यह कह चुकी है कि हम सबको वायरस के साथ जीने की जरूरत है और इस बात की कोई उम्मीद नहीं है कि इस मामले में कोई बदलाव होगा.

जहां तक टेस्ट सीरीज के कार्यक्रम की बात है तो विक्टोरिया पहले ही यह कह चुका है कि एडिलेड से आने वाले लोगों पर किसी तरह का कोई प्रतिबंध नहीं लगाया जाएगा, जो कि एक बड़ी राहत की बात होगी. इसका मतलब है कि एडिलेड टेस्ट खत्म होने के बाद सीरीज में शामिल खिलाड़ी और स्टॉकहोल्डर बिना किसी बाधा के मेलबर्न की यात्रा कर सकते हैं.

(इनपुट-आईएएनएस)

 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *