Indian share markets open with a dip due to bad global cues| आज फिर भारतीय शेयर बाजारों में रह सकती सुस्ती, जानिए कहां मिलेगा खरीदारी का मौका

नई दिल्ली: मंगलवार को शानदार तेजी के साथ बंद हुए भारतीय शेयर बाजारों (Indian share markets) के लिए आज विदेशी बाजारों के संकेत (Global markets cues) अच्छे नहीं है. SGX Nifty 50 अंकों की गिरावट के साथ 11840 के आप-पास कारोबार कर रहा है. अमेरिकी वायदा बाजारों की बात करें तो Dow Futures 130 अंक गिरकर और Nasdaq Futures 45 अंक गिरकर कारोबार कर रहे हैं. 

एशियाई बाजारों (Asian markets) में भी सुस्ती के साथ ही कारोबार हो रहा है. जापान का निक्केई 45 अंक कमजोर है, हॉन्ग कॉन्ग का बाजार हैंग सेंग भी 85 अंक नीचे है, Straits Times भी आधा परसेंट फिसला हुआ है.

कल कैसे रहे विदेशी बाजार

कोरोना के बढ़ते मामलों से अमेरिकी बाजार सहमे हुए हैं. अमेरिकी बाजार कल एक बार फिर गिरकर बंद हुए हैं. Dow Jones 222 अंक टूटकर दिन के निचले स्तर पर बंद हुआ, S&P500 में करीब करीब फ्लैट कारोबार हुआ, लेकिन Nasdaq में 72 अंकों की मजबूती दिखी. कल फाइजर के नतीजे कमजोर आए और माइक्रोसॉफ्ट के गाइडेंस से भी निराशा हुई है. कल अमेरिकी बाजारों में  IT शेयरों में खरीदारी दिखी है, क्योंकि अब वर्क फ्रॉम होम कल्चर को आगे जारी रखने पर विचार हो रहा है.

यूरोपीय बाजारों में भी गिरावट लगातार जारी है, यूरोपीय बाजार 1-2 परसेंट तक गिरकर बंद हुए हैं. लंदन का बाजार FTSE और जर्मनी का बाजार DAX एक परसेंट टूटकर बंद हुआ है, जबकि फ्रांस CAC40 दो परसेंट टूटा है. 

आज विदेशी बाजारों से संकेत 

अमेरिका और यूरोप में कोरोना के बढ़ते मामलों से घबराहट का माहौल है. इसका असर दोनों देशों के शेयर बाजारों पर दिख रहा है. अमेरिका में राहत पैकेज की बात अब धीरे धीरे ठंडी पड़ती जा रही है. अब ये माना जा रहा है कि स्टिमुलस पैकेज पर चर्चा चुनाव के बाद ही होगी, इसलिए अब ये मार्केट के लिए फैक्टर भी नहीं रहा. कच्चे तेल में उतार चढ़ाव का सिलसिला जारी है, गल्फ ऑफ मेक्सिको में एक और तूफान की आशंका से ब्रेंट क्रूड 40 डॉलर के आस-पास कारोबार कर रहा है. 

आज के लिए स्ट्रैटिजी 

हमारे सहयोगी चैनल ज़ी बिज़नेस के मैनेजिंग एडिटर अनिल सिंघवी के मुताबिक ‘अमेरिका और यूरोप में कोरोना के मामले बढ़ना चिंता की बात है. लॉकडाउन की आशंका का असर इकोनॉमिक रिकवरी पर पड़ सकता है, अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव भी हैं. कोराना की पहली लहर से ज्यादा दूसरी लहर का डर है, सरकारें और ज्यादा अहतियात बरतेंगी, जिसका असर अमेरिका और यूरोप के बाजारों पर साफ देखा जा सकता है.’

अनिल सिंघवी के मुताबिक ‘आज निफ्टी के लिए सपोर्ट रेंज 11725-11775 है ऊपरी रेंज 11975-12025 होगी, निफ्टी बैंक के लिए सपोर्ट रेंज 24250-24350 है, जो एक खरीदारी वाली रेंज है. ऊपरी रेंज 25000-25200 रहेगी.’ 

ब्रोकर्स की राय

Choice Broking 
Cipla पर राय (कैश)
खरीदें               771 
स्टॉपलॉस          749 
लक्ष्य                810

Anand Rathi Sec
CDSL खरीदें 
स्टॉपलॉस        460 
लक्ष्य              490

Anand Rathi Sec
Adani Gas खरीदें 
स्टॉपलॉस      194 
लक्ष्य             205



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *