Nitish Kumar to take oath as Bihar CM, RJD to skip ceremony | RJD ने नीतीश के शपथग्रहण समारोह का किया बायकॉट, इस बार टूटेगी ये 30 साल पुरानी परंपरा

पटना: बिहार विधान सभा चुनाव 2020 में जीत के बाद एनडीए (NDA) की नई सरकार का गठन होने जा रहा है और नीतीश कुमार (Nitish Kumar) आज शाम 4.30 पर राजभवन में शपथ लेंगे. शपथग्रहण समारोह में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा शामिल होंगे. लेकिन इस बीच विपक्षी पार्टी आरजेडी (RJD) और कांग्रेस (Congress) ने शपथ ग्रहण समारोह का बहिष्कार करने का ऐलान किया है.

शपथग्रहण में शामिल नहीं होंगे तेजस्वी यादव
आरजेडी (RJD) ने ट्वीट कर समारोह के बायकॉट करने की जानकारी दी है. बता दें कि तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) को शपथग्रहण समारोह के लिए निमंत्रण भेजा गया था, लेकिन वह समारोह में शामिल नहीं होंगे. इससे पहले आरजेडी ने चुनाव में धांधली का आरोप लगाया था.

LIVE टीवी

जनादेश को ‘शासनादेश’ में बदलने का आरोप
आरजेडी ने ट्वीट क कहा, ‘राजद शपथग्रहण का बायकॉट करती है. बदलाव का जनादेश NDA के विरुद्ध है. जनादेश को ‘शासनादेश’ से बदल दिया गया. बिहार के बेरोजगारों, किसानों, संविदाकर्मियों, नियोजित शिक्षकों से पूछे कि उनपर क्या गुजर रही है. एनडीए के फर्जीवाड़े से जनता आक्रोशित है. हम जनप्रतिनिधि है और जनता के साथ खड़े है.’

कांग्रेस को नहीं मिला आमंत्रण
कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा ने कहा कि अभी तक उन्हें आमंत्रण भी नहीं मिला है और यदि आमंत्रण आएगा, वह तब भी शामिल नहीं होंगे. उन्होंने कहा कि वह तेजस्वी यादव की राय से सहमत हैं कि जनादेश का गला घोंटा गया है. मदन मोहन झा ने कहा, ‘हम इस सरकार के गठन का विरोध करते हैं.’

 इस बार टूटेगी ये 30 साल पुरानी परंपरा
कोरोना वायरस संक्रमण को देखते हुए शपथग्रहण समारोह का आयोजन राजभवन में होगा, क्योंकि गांधी मैदान में शपथ समारोह में ज्यादा भीड़ होने की संभावना है. राजभवन में नीतीश कुमार के शपथ लेने के साथ ही 30 साल पुरानी परंपरा भी टूट जाएगी. इससे पहले हर बार मुख्यमंत्रियों ने पटना के ऐतिहासिक गांधी मैदान में शपथ लिया है. बिहार के राज्यपाल फागू चौहान राजभवन के राजेंद्र मंडप में नीतीश कुमार पद और गोपनीयता की शपथ दिलाएंगे.

एनडीए को मिली 125 सीटें
हाल में संपन्न हुए बिहार विधान सभा चुनाव में एनडीए (NDA) को 125 सीट हासिल हुई थीं, जबकि विपक्षी महागठबंधन को 110 सीट मिली थीं. विपक्षी राजद को 75 सीट पर जीत मिली थी, जबकि कांग्रेस 19 सीटों पर सिमट गई थी. वहीं, भाजपा को 74 सीट और जदयू को 43 सीट हासिल हुई थी.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *