Sachin Tendulkar slams Arjun Tendulkar trollers Nepotism ipl 2021 auction | Sachin Tendulkar ने इशारों-इशारों में बेटे Arjun Tendulkar के आलोचकों पर साधा निशाना, दिया ये करारा जवाब

मुंबई: भारत के दिग्गज क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) के बेटे अर्जुन तेंदुलकर (Arjun Tendulkar) को हाल ही में हुए आईपीएल ऑक्शन में मुंबई इंडियंस की टीम ने 20 लाख के बेस प्राइज में खरीदा, जिसके बाद से ही अर्जुन तेंदुलकर के नाम पर लोगों ने नेपोटिज्म (Nepotism) शब्द का इस्तेमाल करना शुरू कर दिया. अब सचिन ने इस मुद्दे पर इशारों-इशारों में अर्जुन तेंदुलकर के आलोचकों को जवाब दिया है. 

सचिन तेंदुलकर का करारा जवाब

सचिन (Sachin Tendulkar) का मानना है कि खेलों में किसी खिलाड़ी को उसकी पृष्ठभूमि नहीं बल्कि मैदान पर प्रदर्शन पहचान दिलाता है. उन्होंने ‘अनएकेडमी’ का ब्रांड एंबेसडर बनने के बाद पीटीआई-भाषा से वर्चुअल बातचीत में कहा, ‘खेल में मैदान पर आपके प्रदर्शन के अलावा किसी अन्य चीज को मान्यता नहीं मिलती है’.

तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने कहा, ‘जब भी हम ड्रेसिंग रूम में प्रवेश करते हैं, तो वास्तव में यह मायने नहीं रखता कि आप कहां से आए हैं. आप देश के किस हिस्से से आए हैं और आपका किससे क्या संबंध है. यहां सभी के लिए समान स्थिति होती है’.

सिंगर Jassi Gill ने Dhanashree Verma के साथ शेयर की PHOTO, Yuzvendra Chahal ने मजेदार अंदाज में दिया रिएक्शन

सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने कहा कि खेल नई पहल से लोगों को एकजुट करता है. उन्होंने कहा, ‘आप एक व्यक्ति के रूप में वहां हैं. ऐसा व्यक्ति जो टीम में योगदान देना चाहता है. हम यही तो करना चाहते हैं, अपने अनुभवों को साझा करना. विभिन्न स्कूलों और बोर्ड का हिस्सा होने के नाते मैं अलग-अलग तरह के प्रशिक्षकों से मिलता हूं. मैं स्वयं बहुत कुछ सीखता हूं और ये वे अनुभव हैं जिन्हें मैं साझा करना चाहता हूं’.

आलोचकों के निशाने पर थे अर्जुन तेंदुलकर 

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 14वें सीजन से पहले हाल ही में खिलाड़ियों की नीलामी की गई. इस साल ऑक्शन में कुछ ऐसे खिलाड़ियों पर भी बोली लगी, जिनके बिकने की किसी को कोई उम्मीद भी नहीं थी. इन खिलाड़ियों में एक नाम महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) के बेटे अर्जुन तेंदुलकर (Arjun Tendulkar) का भी है. अर्जुन को मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) ने 20 लाख रुपये में खरीदा. 

टीम में शामिल होने के बाद से ही ट्विटर पर अर्जुन की नीलामी से कई यूजर्स नाखुश दिखे और उनकी आलोचना करने लगे. हद तो तब हुई जब लोगों ने नेपोटिज्म (Nepotism) शब्द का इस्तेमाल करना शुरू कर दिया. 



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *