आईपीएल टीमों को मंजूरी, कर छूट, क्रिकेट समितियों का गठन एजेंडे में

अहमदाबाद. अगले साल भारत में होने वाले टी20 विश्व कप को कर में पूरी छूट दिए जाने का अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद को आश्वासन देने के लिए मिली समय सीमा खत्म होने में एक सप्ताह ही रह गया है और ऐसे में भारतीय क्रिकेट बोर्ड की गुरुवार (24 दिसंबर) को यहां होने वाली आम सभा की 89वीं सालाना बैठक में यह मसला प्रमुख रहेगा. इसके अलावा दो नई आईपीएल टीमों को शामिल करना और विभिन्न क्रिकेट समितियों का गठन भी एजेंडे में शामिल होगा.

टी20 वर्ल्ड कप आयोजन के लिए कर छूट
अगले साल अक्टूबर नवंबर में भारत में होने वाले टी20 विश्व कप के आयोजन के लिए कर में पूरी छूट की गारंटी देने के लिए आईसीसी ने बोर्ड को 31 दिसंबर तक की समय सीमा दी है. कर छूट नहीं मिलने पर टूर्नामेंट यूएई में खेला जाएगा. इससे पहले भी वैश्विक टूर्नामेंटों को कर में छूट देने की परंपरा रही है लेकिन मौजूदा कर कानूनों के तहत खेल आयोजनों को ऐसी रियायत नहीं मिलती. अब देखना होगा कि इस मसले पर बीसीसीआई का क्या रुख रहता है. बीसीसीआई और आईसीसी के बीच कर छूट का यह मसला नया नहीं है. इससे पहले भी 2016 में भारत में हुए टी20 विश्व कप पर लगाए गए कर की वसूली के लिए आईसीसी ने बीसीसीआई के सालाना राजस्व का हिस्सा काटने की धमकी दी थी.

सानिया मिर्जा के बेटे ने की ‘मगरमच्छ’ की सवारी, श्रेयस अय्यर ने गले में लटकाया अजगर- PHOTOSसौरव गांगुली और हितों के टकराव का मसला

इस बीच बीसीसीआई के नए उपाध्यक्ष राजीव शुक्ला के चयन की भी इस बैठक में औपचारिक घोषणा होगी, जो सर्वसम्मति से चुने गए हैं. बृजेश पटेल आईपीएल संचालन परिषद के प्रमुख बने रहेंगे. ऐसी भी अटकलें हैं कि बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली से उनके विज्ञापनों और उससे जुड़े हितों के टकराव के मामले पर भी सवाल किए जाएगे, लेकिन अभी इस पर कोई स्पष्टता नहीं है.

आईपीएल 2022 के लिए दो नई टीमों को मंजूरी
आईपीएल 2022 के लिए दो नई टीमों को भी मंजूरी दी जाएगी. बोर्ड के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ” इस समय आईपीएल में दस टीमें रखना 2021 के लिए संभव नहीं है. इसके लिए निविदा की प्रक्रिया और नीलामी लंबा समय लेगी और इतने कम समय में यह मुमकिन नहीं.” उन्होंने कहा, ”यह सही होगा कि मंजूरी ले ली जाये और 2022 में 94 मैचों का टूर्नामेंट हो.”

बीसीसीआई सचिव और गांगुली बोर्ड के प्रतिनिधि बने रहेंगे

आईसीसी के मंचों पर बीसीसीआई सचिव और गांगुली बोर्ड के प्रतिनिधि बने रहेंगे. बीसीसीआई अगर 2028 लॉस एंजिलिस ओलंपिक में क्रिकेट को शामिल करने का समर्थन करता है तो उसकी स्वायत्ता खत्म हो जाएगी और वह राष्ट्रीय खेल महासंघ होने के नाते खेल मंत्रालय के अंतर्गत आ जाएगा.

कोटला में अरुण जेटली की प्रतिमा के सुझाव से नाराज बिशन सिंह बेदी ने DDCA से स्टैंड्स से अपना नाम हटाने को कहा

2022 के लिए दो नई टीमों को भी मंजूरी
बीसीसीआई की विभिन्न समितियों का गठन भी लंबे समय से रुका हुआ है. समझा जाता है कि बीसीसीआई की एजीएमगुरुवार को नई क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) का गठन करेगी, जो फरवरी में इंग्लैंड के खिलाफ होने वाली सीरीज से पहले तीन राष्ट्रीय चयनकर्ताओं को चुनेगी.

तीन राष्ट्रीय चयनकर्ताओं का चुनाव
तीन क्षेत्रों से चयनकर्ताओं के पदों के लिए कुछ जाने माने नामों ने आवेदन किया है. इसमें सबसे बड़ा नाम पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज अजित आगरकर का , जिन्होंने राष्ट्रीय टीम के लिए सभी प्रारूपों में 200 से अधिक अंतरराष्ट्रीय मैच खेले. आगरकर पश्चिम क्षेत्र से एबे कुरुविला के साथ दावेदार हैं जबकि उत्तर क्षेत्र से मनिंदर सिंह और चेतन शर्मा ने आवेदन किया है. पूर्व टेस्ट सलामी बल्लेबाज शिव सुंदर दास पूर्व क्षेत्र से आवेदन करने वाले बड़े पूर्व खिलाड़ी हैं.



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *