राजस्थान ने चेन्नई सुपर किंग्स को सात विकेट से दी मात, अंकतालिका के आखिर में पहुंची CSK

चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स के बीच मैच अबु धाबी में खेला गया

चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स के बीच मैच अबु धाबी में खेला गया

चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) ने पहले बल्लेबाजी करते हुए राजस्थान रॉयल्स (Rajasthan Royals) को 126 रनों का छोटा लक्ष्या दिया था.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    October 19, 2020, 11:34 PM IST

अबु धाबी. आईपीएल में रविवार को चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) को अपनी धीमी बल्लेबाजी काफी महंगी पड़ी और उसे राजस्थान रॉयल्स (Rajasthan Royals) के हाथों सात विकेट से हार का सामना करना पड़ा. चेन्नई की ओर से कोई बल्लेबाज आक्रमक अंदाज में बल्‍लेबाजी नहीं कर सका और इसी के कारण टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में केवल 126 रन ही बना पाईं. जवाब में राजस्थान रॉयल्स (Rajasthan Royals) ने यह लक्ष्य 17.3 ओवर में ही हासिल कर लिया. चेन्नई को यह काफी भारी पड़ा क्योंकि वह अब अंकतालिका में सबसे नीचे पहुंच गई हैं. राजस्थान रॉयल्स की इस जीत ने चेन्नई के प्लेऑफ के सफर को बहुत मुश्किल बना दिया है.

राजस्थान रॉयल्स की शुरुआत काफी खराब रही. शुरुआत के दो ओवर में ही 20 रन जोड़ने के बाद अगले तीन ओवर में तीन विकेट खो दिए. सबसे पहले बेन स्टोक्स दीपक चाहर की गेंद पर बोल्ड हुए औऱ 11 ओवर में 19 रन बनाकर पवेलियन लौटे. वहीं इसके बाद चौथे ओवर में चार बनाकर रॉबिन उथप्पा धोनी को कैच थमा बैठे वहीं संजू सैमसन बिना खाता खोले ही चाहर का शिकार बने. इसके बाद जोस बटलर और स्टीव स्मिथ क्रीज पर आए और टिक गए.

चेन्नई बना पाई बस 126 रन
चेन्नई सुपर किंग्स की टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए पांच विकेट पर 125 रन ही बना पाई. चेन्नई की तरफ से रवींद्र जडेजा (30 गेंदों पर 35) और कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (28 गेंदों पर 28) ही योगदान दे पाये. आर्चर ने 20 रन देकर एक विकेट लिया जबकि स्टीव स्मिथ ने पहले 15 ओवर में ही अपने स्पिनरों का कोटा खत्म करवा दिया था. श्रेयस गोपाल (14 रन देकर एक) और राहुल तेवतिया (18 रन देकर एक) ने मिलाकर आठ ओवर में 32 रन देकर दो विकेट लिये और चेन्नई के बल्लेबाजों को दबाव में रखा.आईपीएल में 200 मैच खेलने वाले पहले खिलाड़ी बने धोनी का टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला एकबारगी उल्टा दांव चलने जैसा लगा क्योंकि 10 ओवर के स्कोर तक चार विकेट पर 56 रन थे. अब तक टीम की तरफ से रन बनाने वाले प्रमुख बल्लेबाज शेन वाटसन और फाफ डुप्लेसिस के अलावा सैम कुरेन और अंबाती रायुडु भी पवेलियन में विराजमान थे.

रॉयल्स के गेंदबाजों के सामने बेबस दिखे चेन्नई के बल्लेबाज
रॉयल्स के गेंदबाजों की तारीफ करनी होगी कि उन्होंने परिस्थितियों का फायदा उठाकर चेन्नई के बल्लेबाजों को शुरू से दबाव में रखा. पिच धीमी थी लेकिन उससे असामान्‍य उछाल भी मिल रही थी जिससे बल्लेबाज सामंजस्य नहीं बिठा पाये. जोस बटलर ने डुप्लेसिस (10) का खूबसूरत कैच लिया लेकिन बेन स्टोक्स पर लगाये गये एक छक्के को छोड़कर कुरेन (22) आत्मविश्वास में नहीं दिखे. वाटसन (आठ) और रायुडु (13) ने आसान कैच दिये.

धोनी और जडेजा अपेक्षित तेजी से रन नहीं बना पाये. इन दोनों ने पांचवें विकेट के लिये 51 रन जोड़े लेकिन इसके लिये 46 गेंदें खेली. चेन्नई के पास विकेट बचे हुए थे, इसके बावजूद उसने आखिरी पांच ओवरों में केवल 36 रन बनाये. चेन्नई की पूरी पारी में 12 चौके और एक छक्का लगा. इनमें से चार चौके जडेजा ने लगाये.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *