सचिन तेंदुलकर ने बताया, कौन हैं भारतीय टीम के लिए सबसे बड़ा खतरा

टेस्ट सीरीज से पहले सचिन तेंदुलकर ने बताया, ये ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी हैं टीम इंडिया के लिए बड़ा खतरा

टेस्ट सीरीज से पहले सचिन तेंदुलकर ने बताया, ये ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी हैं टीम इंडिया के लिए बड़ा खतरा

सचिन ने कहा कि ऑस्ट्रेलियन टीम बहुत मजबूत है. खासकर डेविड वॉर्नर (David Warner) और स्टीव स्मिथ (Steve Smith) की वापसी से. ये दोनों खिलाडी गेंद से छेड़छाड़ के मामले में एक साल के प्रतिबंध के बाद टीम में लौटे हैं.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    December 14, 2020, 2:44 PM IST

नई दिल्ली. भारत और ऑस्ट्रेलिया (India vs Australia) के बीच एडिलेड में पिंक बॉल ऐतिहासिक टेस्ट के शुरू होने में बस दो ही दिन बचे हैं. ऐसे में हर तरफ इस डे-नाइट मैच (Day Night Test match) की प्लेइंग इलेवन की चर्चा है. ऑस्ट्रेलिया और भारत इसे लेकर चिंतित हैं. दिग्गज क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने चार टेस्ट मैचों की सीरीज के पहले टेस्ट से पहले अपनी राय दी है. सचिन ने कहा कि ऑस्ट्रेलियन टीम बहुत मजबूत है. खासकर डेविड वॉर्नर (David Warner) और स्टीव स्मिथ (Steve Smith) की वापसी से. ये दोनों खिलाडी गेंद से छेड़छाड़ के मामले में एक साल के प्रतिबंध के बाद टीम में लौटे हैं.

सचिन तेंदुलकर ने एक अन्य ऑस्ट्रेलियन बल्लेबाज मार्नस लाबुशेन (Marnus Labuschagne) को भी भारत के लिए सिरदर्द साबित होने वाला खिलाड़ी बताया है. तेंदुलकर ने कहा, ”पिछली बार जब ऑस्ट्रेलिया भारत से खेला था, तो तीन महत्वपूर्ण खिलाड़ी नहीं थे- वॉर्नर, स्मिथ और लाबुशेन. ऑस्ट्रेलिया की इस बार की टीम पिछली बार के मुकाबले ज्यादा मजबूत है. जब आपके कुछ सीनियर खिलाड़ी नहीं खेलते तो एक शून्य पैदा हो जाता है.”

ऋषभ पंत के फैन हुए आकाश चोपड़ा, बोले- मुझे एडम गिलक्रिस्ट की याद दिलाते हैं

बता दें कि डेविड वॉर्नर और स्टीव स्मिथ उस टीम का हिस्सा नहीं थे, जिसे भारत ने पिछले दौरे पर 2018-19 में 2-1 से हराया था. तब मार्नस लाबुशेन ने भी डेब्यू नहीं किया था. तेंदुलकर का यह भी मानना है कि जसप्रीत बुमराह और ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन के नेतृत्व में भारत का गेंदबाजी अटैक मजबूत है और वह ऑस्ट्रेलिया की चुनौती का सही जवाब दे सकता है.INDvsAUS: ऑस्ट्रेलिया की टेस्ट टीम का ऐलान, हेनरिक्स को मिली जगह, एबॉट हुए बाहर

सचिन तेंदुलकर ने कहा, ”हर युग को अलग रखना चाहिए. मुझे तुलना करना पसंद नहीं है, लेकिन मैं इतना कहूंगा कि भारत के पास अब संपूर्ण गेंदबाजी अटैक है. लिहाजा इस बात से फर्क नहीं पड़ता कि आपको कैसी पिच खेलने के लिए मिलती है. आपके पास स्विंग गेंदबाज हैं, आपके पास रिस्ट स्पिनर है, उंगलियों के स्पिनर हैं.”



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *