bigbasket data breach of 2 crore users, on sale on dark web for 30 lakh rupees। आप भी करते हैं BigBasket का इस्तेमाल तो हो जाएं सावधान, 2 करोड़ ग्राहकों का डेटा हैक

नई दिल्लीः ऑनलाइन ग्रॉसरी प्लेटफॉर्म बिग बास्केट (Bigbasket) के डेटा में सेंध लग गई है. हैकर्स ने प्लेटफॉर्म पर मौजूद 2 करोड़ से अधिक ग्राहकों की डिटेल्स को डार्क वेब पर डाल दिया है. इस संबंध में बेंगलूरू पुलिस ने मुकदमा दर्ज करते हुए कार्यवाही शुरू कर दी है. इससे ग्राहकों पर भी भविष्य में असर पड़ सकता है. अगर आप भी बिग बास्केट से शॉपिंग करते हैं तो अपनी महत्वपूर्ण डिटेल्स को बदल लें, ताकि किसी तरह का नुकसान आगे चलकर न हो. 

Cyble ने दी जानकारी
साइबर इंटेलीजेंस कंपनी Cyble ने इस बारे में एक रिपोर्ट दी है जिसके आधार पर साइबर क्राइम सेल ने शिकायत दर्ज कराई थी. कंपनी ने कहा कि रूटीन वेब मॉनिटरिंग करते हुए रिसर्च टीम ने पाया कि बिगबास्केट का डेटाबेस साइबर क्राइम मार्केट में बेचने के लिए उपलब्ध है. ये डेटा 30 लाख रुपये (40 हजार डॉलर) में मिल रहा है. 15जीबी की SQL फाइल है. 

ये जानकारियां हैं फाइल में मौजूद
इस डिटेल में यूजर्स का नाम, ई-मेल आईडी, पासवर्ड, फोन नंबर, पता, जन्म तिथि, लोकेशन और आईपी एड्रेस तक मौजूद है. हालांकि कंपनी ओटीपी के जरिए पासवर्ड भेजती है, जो हर बार बदल जाता है. 

यह भी पढ़ेंः इस RD स्कीम में 100 रुपये के निवेश से भी खुलेगा खाता, मिलेगा 5.8% ब्याज

ग्राहकों की गोपनीयता प्राथमिकता 
हालांकि बिगबास्केट ने कहा है कि कंपनी ने कहा कि ग्राहकों की गोपनीयता प्राथमिकता है और यह क्रेडिट कार्ड नंबर आदि सहित किसी भी वित्तीय डेटा को संग्रहीत नहीं करता है और विश्वास है कि यह वित्तीय डेटा सुरक्षित है. हमारे पास एक मजबूत सूचना सुरक्षा ढांचा है जो सर्वश्रेष्ठ-इन-क्लास संसाधनों और प्रौद्योगिकियों को रोजगार देता है. बिगबास्केट ने कहा कि हम अपनी जानकारी को प्रबंधित करते रहेंगे. हम आगे भी इसे मजबूत करने के लिए सर्वश्रेष्ठ-इन-क्लास सूचना सुरक्षा विशेषज्ञों के साथ जुड़ना जारी रखेंगे.

साइबल ने दावा किया कि डाटा हैक 30 अक्टूबर, 2020 को हुआ था और इसने बिगबास्केट के प्रबंधन को इसके बारे में पहले ही सूचित कर दिया था.

Video-



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *