Bihar Election Results 2020: Chirag Paswan first reaction during vote counting| Bihar: चिराग की पार्टी काउंटिंग में कहीं दिख तो नहीं रही, फिर भी है ‘खुश’

पटना: बिहार विधान सभा चुनाव से पहले लोक जन शक्ति पार्टी (लोजपा) के नेता चिराग पासवान ने सूबे में एनडीए का साथ छोड़कर अकेले दम पर चुनाव लड़ने का फैसला किया था. उन्‍होंने ये भी कहा था कि वोटिंग के दिन के बाद नीतीश कुमार मुख्‍यमंत्री नहीं रहेंगे. उन्‍होंने अपने प्रत्‍याशी भी जेडीयू के खिलाफ उतारे थे. हालांकि बिहार विधान सभा चुनाव के परिणामों के जो नतीजे आ रहे हैं, उनमें लोक जन शक्ति पार्टी (लोजपा) का प्रदर्शन अपेक्षा के अनुरूप नहीं है, लेकिन पार्टी ने अभी उम्मीद नहीं छोड़ी है और अंतिम परिणाम घोषित होने का इंतजार कर रही है. हालांकि पार्टी के नेताओं का दावा है कि लोजपा के कारण जनता दल (युनाइटेड) को 20 से 25 सीटों का नुकसान तो जरूर रहेगा. बिहार विधानसभा की 243 सीटों में से लोजपा ने 137 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे थे, जिनमें से महज दो सीटों पर लोजपा के उम्मीदवार आगे चल रहे हैं.

लोजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संजय सर्राफ मानते हैं कि पार्टी का प्रदर्शन अपेक्षा के अनुरूप नहीं है, लेकिन उनका कहना है कि उनको अभी अंतिम परिणाम घोषित होने का इंतजार है, जबकि इससे कुछ बेहतर नतीजे देखने को मिल सकते हैं.

सर्राफ हालांकि यह भी कहते हैं कि बिहार की जनता का जो आदेश होगा, वह पार्टी को स्वीकार होगा. उन्होंने कहा, “हमें लगता था कि 10 से 15 सीटें आसानी से आ जाएंगी, लेकिन देखते हैं कि अंतिम परिणाम घोषित होने तक क्या होता है.”

LIVE TV

जद(यू) से मतभेद को लेकर लोजपा ने राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) से अलग होकर अपने दम पर बिहार विधानसभा चुनाव लड़ने का फैसला किया. इस फैसले को लेकर पूछे गए सवाल पर लोजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता ने कहा, “जब एक बार फैसला ले लिया तो उसे पीछे मुड़कर नहीं देखते, लेकिन पार्टी इस बात का आत्मावलोकन करेगी कि कहां और क्या कमी रह गई कि जब (लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ) चिराग की सभा में इतनी बड़ी भीड़ होती थी तो फिर कमी कहां रह गई.”

जेडीयू को 35-40 सीटों का नुकसान
लोजपा द्वारा जद(यू) के खिलाफ उम्मीदवार उतारकर उसे नुकसान पहुंचाने की कोशिश को लेकर पूछे गए सवाल पर उन्‍होंने कहा, “जब हम सामने खड़े हो गए तो 20 से 25 सीटों का तो उनको नुकसान हो ही गया. अगर साथ में लड़ते तो हम 200 से ज्यादा सीटों पर जीत दर्ज करते.”

लोजपा के अन्य नेता प्रणव कुमार ने कहा कि लोजपा के कारण जनता दल (युनाइटेड) को 35 से 40 सीटों पर शिकस्त मिल रही है.

बिहार विधानसभा चुनाव के लिए तीन चरणों में हुए मतदान के बाद मंगलवार को मतों की गिनती चल रही है और दोपहर बाद तक के जो परिणाम मिले हैं 73 सीटों पर बढ़त के साथ भारतीय जनता पार्टी सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी है, जबकि 66 सीटों पर बढ़त के दूसरे स्थान राष्ट्रीय जनता दल दूसरे स्थान पर है. जद(यू) 48 सीटों पर बढ़त के साथ तीसरे स्थान पर है. हालांकि, अब तक के रुझानों के अनुसार, सत्तासीन राजग को बहुमत मिलता दिख रहा है.

 

 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *