Five reasons of Kolkata Knight Riders lost against KXIP in ipl 2020 46th match | IPL 2020: KKR की बढ़ी मुश्किलें, KXIP के खिलाफ कोलकाता की हार के ये हैं 5 बड़े कारण

शारजाह: सोमवार को खेले गए आईपीएल 2020 (IPL 2020) के 46वें मुकाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स को किंग्स इलेवन पंजाब (Kings Eleven Punjab vs Kolkata Knight Riders) ने 8 से शिकस्त दी है. इस हार के साथ ही केकेआर की टीम के लिए इस टूर्नामेंट की आगे की राह अब काफी मुश्किल होने वाली है.

साथ ही कोलकाता को अब प्लेऑफ में जगह बनाने के लिए चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) और रॉजस्थान रॉयल्स (RR) के खिलाफ होने वाले दोनों मुकाबलों में जीत दर्ज करनी होगी. इससे पहले हम आपको बताने जा रहे हैं, पंजाब के सामने आखिर किन कारणों से केकेआर को मिली मात. 

शुरुआत रही बेहद खराब

टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) की शुरुआत बेहद खराब रही. जिसके तहत टीम ने महज 10 रनों पर नीतिश राणा, दिनेश कार्तिक और राहुल त्रिपाठी के तीन बहुमूल्य विकेट गंवा दिए.

अहम मौके पर इयॉन मोर्गन का आउट होना

तीन विकेट जल्दी गिरने के बाद केकेआर के कप्तान इयॉन मोर्गन (Eoin Morgan) ने टीम को संभालते हुए 25 बॉल में 40 रनों तेजतर्रार पारी जरूर खेली. लेकिन वह गलत समय पर बड़ा शॉट मारने के चक्कर में आउट हो गए.

लगातार गिरते रहे विकेट

केकेआर के लिए मोर्गन के आउट होने के बाद ओपनर शुभमन गिल (Shubman Gill) ने एक छोर बखूबी संभालते हुए 57 रनों बेहद अहम पारी खेली. पर दूसरे छोर से कोलकाता की टीम के विकेट नियमित अंतराल पर गिरते रहे. जिसकी वजह से केकेआर शारजाह के मैदान पर ज्यादा बड़ा स्कोर नहीं बना सकी.

पावरप्ले में नहीं मिले विकेट

150 रनों की डिफेंड करते हुए कोलकाता नाइट राइडर्स को किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ पावरप्ले में अच्छी शुरुआत नहीं मिली. आलम यह रहा कि टीम पहले 6 ओवर में पंजाब का एक भी विकेट चटकाने में सफल नहीं रही. 

लॉकी फर्गुसन को गेंदबाजी आक्रमण के लिए देर से लाना 
 
इस मैच में केकेआर को मिली हार के लिए इयॉन मोर्गन की कप्तानी की कड़ी आलोचन हो रही है. दरअसल ऐसा माना जा रहा है कि मोर्गन को कोलकाता के तेज गेंदबाज लॉकी फर्गुसन को शुरुआती ओवरों से बॉलिंग पर लाना था, क्योंकि फर्गुसन ने नाइट राइडर्स के अब तक लिए कई विकेट चटकाए हैं और बॉल से वह अच्छी फॉर्म में हैं. 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *