Parliamentary committee summoned Jio, Airtel,ola, uber companies | संसदीय समिति ने जियो, एयरटेल, ओला, ऊबर कंपनियों को किया तलब, जानिए क्या है मामला

नई दिल्ली: डेटा सुरक्षा मामले में सुनवाई कर रही संसद की संयुक्त समिति (Parliamentary committee) ने टेलिकॉम कंपनी रिलायंस जियो (Jio) और भारती एयरटेल (Airtel) को नोटिस जारी कर पेश होने का हुक्म दिया है. ऑनलाइन वाहन बुकिंग सेवा देने वाली ओला, ऊबर कंपनी के प्रतिनिधियों को भी पेश होने का नोटिस दिया गया है. 

निजी डेटा सुरक्षा पर विचार कर रही है समिति
बता दें कि बीजेपी सांसद मीनाक्षी लेखी की अध्यक्षता वाली समिति निजी आंकड़ा सुरक्षा विधेयक 2019 पर विचार कर रही है. समिति की बुधवार को हुई बैठक में नोटिस जारी करते हुए रिलायंस जियो इन्फोकॉम और जियो प्लेटफार्म्स के प्रतिनिधियों को 4 नवंबर को पेश होने का आदेश दिया गया. वहीं ओला और ऊबर कंपनी के प्रतिनिधियों को 5 नवंबर को समिति के सामने पेश होने का हुक्म दिया गया है. 

अमेजन कंपनी पहले ही पेश हो चुकी है
सूत्रों के मुताबिक एयरटेल और ट्रूकॉलर कंपनी के प्रतिनिधियों को समिति ने 6 नवंबर को पेश होने का नोटिस भेजा है. गूगल और पेटीएम समिति के समक्ष 29 अक्टूबर को उपस्थित होंगे. सोशल मीडिया कंपनी फेसबुक, ट्विटर तथा ऑनलाइन बिजनेस कंपनी अमेजन के प्रतिनिधि पहले ही संसदीय समिति के सामने अपनी बात रख चुके हैं. 

ये भी पढ़ें- इस देश में खरीद सकते हैं अपने सपनों का घर, कीमत एक कॉफी के कप से भी कम

दिसंबर 19 में संसद में पेश हुआ था विधेयक
बता दें कि केंद्रीय सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने 11 दिसंबर, 2019 को निजी आंकड़ा संरक्षण विधेयक लोकसभा में पेश किया था. विधेयक में लोगों से जुड़ी उनकी निजी जानकारी के संरक्षण और आंकड़ा संरक्षण प्राधिकरण के गठन का प्रस्ताव किया गया है. इस विधेयक को बाद में संसद के दोनों सदनों की संयुक्त प्रवर समिति को भेज दिया गया. प्रस्तावित कानून किसी व्यक्ति की सहमति के बिना संस्थाओं द्वारा व्यक्तिगत आंकड़ों के भंडारण और उपयोग पर रोक लगाता है.

LIVE TV



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *